COVID-19: गहलोत सरकार का बड़ा फैसला, 31 मार्च तक राजस्थान लॉक डाउनCOVID-19: राजस्थान लॉकडाउन

COVID-19: गहलोत सरकार का बड़ा फैसला, 31 मार्च तक राजस्थान लॉक डाउनCOVID-19: राजस्थान लॉकडाउन, कोर ग्रुप का गठन, सरकार उठा रही है ये अहम कदम

COVID-19: राजस्थान लॉक डाउन, कोर ग्रुप का गठन, सरकार उठा रही है ये अहम कदम
COVID-19: राजस्थान लॉक डाउन, कोर ग्रुप का गठन, सरकार उठा रही है ये अहम कदमकोरोना वायरस से बचाव के लिए प्रदेश में 31 मार्च तक धारा-144 पहले ही लागू की जा चुकी है. (प्रतीकात्मक फोटो)
कोरोना वायरस (Corona virus) से प्रदेशवासियों को बचाने के लिए अशोक गहलोत सरकार (Ashok Gehlot Government) की ओर से राजस्थान ‘लॉक डाउन’ (Lock down) का कदम उठाया गया है.

जयपुर. कोरोना वायरस (Corona virus) से प्रदेशवासियों को बचाने के लिए अशोक गहलोत सरकार (Ashok Gehlot Government) की ओर से राजस्थान ‘लॉक डाउन’ (Lock down) का कदम उठाया गया है. अब प्रदेश में आगामी 31 मार्च तक केवल आवश्यक सेवाएं ही चालू रहेंगी. इस लॉक डाउन के बाद प्रदेश में सभी राजकीय एवं निजी कार्यालय, मॉल्स, दुकानें, फैक्ट्रियां और सार्वजनिक परिवहन आदि सेवाएं पूरी तरह से बंद रहेंगी. शनिवार रात को सीएम हाउस में आयोजित बैठक में सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि कोरोना का हराने के लिए सरकार के निर्णयों और एडवाइजरी का पूरी तरह से पालन करें ताकि स्थिति नियंत्रण से बाहर नहीं हो.

राजस्थान लॉक डाउन के दौरान दैनिक निर्णयों के लिए कोर ग्रुप का गठन किया गया है. अतिरिक्त मुख्य सचिव गृह एवं परिवहन राजीव स्वरूप की अध्यक्षता में यह कोर ग्रुप काम करेगा. यह कोर ग्रुप लॉक डाउन एवं अन्य पाबंदियों के कारण आम जनता विशेषकर गरीब एवं वंचित वर्ग की आवश्यकताओं की पूर्ति हेतु लिए जाने वाले निर्णयों की अभिशंषा करेगा.

राज्य सरकार ये कदम भी उठा रही है

  • एनएफएसए से जुड़े परिवारों को 2 माह का निशुल्क गेहूं दिया जाएगा.
  • इन परिवारों को मई माह तक निशुल्क गेहूं उपलब्ध कराया जाएगा.
  • शहरी क्षेत्रों में जरुरतमंदों परिवारों को खाद्य सामग्री के पैकेट दिए जाएंगे.
  • सामाजिक सुरक्षा पेंशन का वितरण अप्रेल के प्रथम सप्ताह में किया जाएगा.
  • लॉक डाउन के दौरान फैक्ट्री श्रमिकों को सवैतनिक अवकाश देने की अपील की गई है.

तमाम बड़े मंदिर और दरगाह बंद कर दिए गए हैं

उल्लेखनीय है कि प्रदेश में कोरोना वायरस से बचाव के लिए 31 मार्च तक धारा-144 पहले ही लागू की जा चुकी है. सभी स्कूल-कॉलेज और विश्वविद्यालयों की परीक्षाएं स्थगित कर दी गई है. राज्य के तमाम बड़े मंदिरों और दरगाह जहां बड़ी संख्या में श्रद्धालु एकत्र होते हैं वे बंद कर दिए गए हैं. वहां पूजा पाठ के लिए कुछ लोगों को ही जाने की अनुमति दी गई है. सीएम अशोक गहलोत लगातार कोरोना वायरस के मामले को लेकर उच्च स्तरीय बैठकें कर रहे हैं. जिला अस्पतालों में भी आइसोलेशन वार्ड बनाने के निर्देश दिए जा चुके हैं.

COVID-19: गहलोत सरकार का बड़ा फैसला, 31 मार्च तक राजस्थान लॉक डाउन

ओफ्फिसियल नोटिफिकेशन डाऊनलोड करने के लिये नीचे क्लिक करें।

क्लिक करें

Brijlal Godara

Brijlal Godara

Hii.. I am Brijlal Godara. Welcome to my website Govt jobs guru. Visit daily for all govt jobs correct information.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp Join WhatsApp Group